राजस्थान

राजस्थान- तेलंगाना चुनाव के लिए मतदान शुरू, वसुंधरा राजे ने डाला वोट, कहीं पर EVM मशीने खराब

राजस्थान की पन्द्रहवीं विधानसभा चुनाव के लिए आज सुबह आठ बजे से शांतिपूर्वक मतदान शुरु हो गया।

राजस्थान की पन्द्रहवीं विधानसभा चुनाव के लिए आज सुबह आठ बजे से शांतिपूर्वक मतदान शुरु हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी जगह शांतिपूर्वक मतदान शुरु हो गया। हालांकि जोधपुर में सरदारपुरा मतदान केंद्र पर एक ईवीएम मशीन शुरु नहीं होने के समाचार हैं जिसे शीघ्र शुरु कराने के प्रयास किये जा रहे हैं। मतदान सायं पांच बजे तक मतदान किया जाएगा। इस चुनाव में पहली बार वीवी पैट मशीनों का उपयोग किया जा रहा है। मतदान के लिए 51 हजार 687 मतदान केंद्र बनाये गये हैं। इनमें 209 आदर्श मतदान केंद्र हैं। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार के अनुसार राज्य में कुल 13 हजार 382 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं, जिनमें से 4 हजार 982 मतदान केंद्रों पर माइक्रो आब्जर्वर, तीन हजार 948 मतदान केंद्रों पर विडियोग्राफर, तीन हजार 138 मतदान केंद्रों पर वेबका स्टग और 7 हजार 791 मतदान केंद्रों पर केंद्रीय सुरक्षा बल (सीएपीएफ) की तैनाती की गई है।

उन्होंने बताया कि चुनाव के लिए राज्य में कुल 387 नाके और चैक पोस्ट लगाए गए हैं। इसके अलावा कुल एक लाख 44 हजार 941 पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है, जिसमें 640 कंपनियां केंद्रीय सुरक्षा बल की शामिल है। राज्य में 199 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए कुल चार करोड़ 74 लाख 37 हजार 761 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। उल्लेखनीय है कि अलवर जिले में एक विधानसभा क्षेत्र में बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी के निधन के कारण वहां चुनाव स्थगित कर देने से आज कुल दो सौ में से 199 विधानसभा सीटों पर चुनाव हो रहा हैं।

राजस्थान विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आज झालवाड़ जिले की झालरापाटन एवं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जोधपुर तथा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने जयपुर में अपना वोट डाला। वसुंधरा राजे ने झालरापाटन में मतदान केंद्र संख्या 31 ए पर अपना मत डाला।  इस अवसर पर उन्होंने मीडिया से कहा कि इस बार भी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जीत तय हैं क्योंकि लोग विकास को लेकर मतदान कर रहे हैं। इस मौके पर गहलोत ने दावा करते हुए कहा कि कांग्रेस भारी बहुमत के साथ सरकार बनायेगी क्योंकि पिछले पांच साल में भाजपा सरकार के पास लोगों को बताने के लिए कुछ भी नहीं हैं। उन्होंने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती कांग्रेस के समय की कुछ योजनाओं को बंद किया और विकास का कोई काम नहीं करने से लोगों में उसके प्रति भारी गुस्सा हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker