नई दिल्ली

दिल्ली के रामलीला मैदान में राम-राम, मंदिर के लिए जुटे हजारों लोग

संसद के शीतकालीन सत्र से कुछ दिन पहले विश्व हिंदू परिषद की रैली में रविवार को हजारों लोग अयोध्या में राम मंदिर बनाने की मांग के साथ रामलीला मैदान में जुटे।

नई दिल्लीः  संसद के शीतकालीन सत्र से कुछ दिन पहले विश्व हिंदू परिषद की रैली में रविवार को हजारों लोग अयोध्या में राम मंदिर बनाने की मांग के साथ रामलीला मैदान में जुटे। विश्व हिंदू परिषद ने बताया कि इस रैली को आरएसएस के कार्यकारी प्रमुख सुरेश ‘भैयाजी’ जोशी संबोधित करंगे। इस रैली के माध्यम से विहिप यह मांग कर रही है कि अगर जरुरत पड़े तो केंद्र सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाना चाहिए।

जोशी के अलावा विहिप अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे और इसके अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार भी इस रैली को संबोधित कर सकते हैं। यातायात पुलिस ने रैली को देखते हुए मार्ग परिवर्तन का परामर्श जारी किया है. परामर्श में कहा गया है कि रंजीत सिंह फ्लाईओवरर् गुरु नानक चौक से बाराखम्बा रोडी, जेएलएन मार्गर् राजघाट से दिल्ली गेटी और वीआईपी गेट चमन लाल मार्ग पर गाड़यिों के आवागमन की अनुमति नहीं है। रामलीला मैदान में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं और ऊंची जगहों पर स्नाइपर तैनात किए गए हैं। इस रैली को सफल बनाने के लिए विहिप ने लोगों के घर-घर जाकर प्रचार अभियान चलाया।

विहिप के प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा, ‘‘ राम मंदिर के निर्माण के लिए जो लोग विधेयक लाने के पक्ष में नहीं हैं, यह रैली उन लोगों का हृदय परिवर्तन करेगी।संगठन ने मंदिर निर्माण के अपने पूर्व चरण के दौर में राष्ट्रपति रामनाथ कोंिवद और राज्य के राज्यपालों से मुलाकात की थी। आने वाले चरण में वे मंदिरों और मठों में धार्मिक अनुष्ठान और प्रार्थना करेंगे। यह अभियान प्रयाग में साधु-संतों की ‘ धर्म संसद’ के साथ संपन्न होगा। अंतिम ‘धर्म संसद’ 31 जनवरी और एक फरवरी को आयोजित होगी। संसद का शीतकालीन सत्र मंगलवार से शुरु हो रहा है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker