उत्तरप्रदेश

गाजीपुर हिंसा के बाद खड़े हुए सवाल- पुलिस खुद सुरक्षित नहीं, हम क्या उम्मीद करें

 गाजीपुर में पीएम मोदी की रैली से वापस जा रहे पुलिसकर्मियों पर पथराव की घटना हुई। इस घटना में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई।

लखनऊः गाजीपुर में पीएम मोदी की रैली से वापस जा रहे पुलिसकर्मियों पर पथराव की घटना हुई। इस घटना में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई। पुलिसकर्मी की मौत के उपरांत राज्य में सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिये हैं। मृतक कांस्टेबल के बेटे ने कहा कि अब तो पुलिस अपनी सुरक्षा नहीं कर पा रही तो बाकी उनसे क्या उम्मीद कर सकते हैं। हम उस मुआवजे का क्या करेंगे जो सरकार हमें देने वाली है।

VP Singh, son of deceased constable Suresh Vats who died in Ghazipur in a stone pelting incident y’day: Police is not being able to protect their own. What can we expect from them?What will we do with compensation now?Earlier,similar incidents took place in Bulandshahr&Pratapgarh pic.twitter.com/2xgarpIDXB

— ANI UP (@ANINewsUP) December 30, 2018

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से लौट रहे पुलिसकर्मियों पर गाजीपुर के ननोहारा में कुछ लोगों ने पथराव किया था। इस पथराव की चपेट में आने से गाज़ीपुर के करीमुद्दीनपुर थाने में तैनात कांस्टेबल सुरेश वत्स की मौत हो गई थी। वह प्रतापगढ़ के लक्षीपुर-रानीपुर के रहने वाले थे। इस घटना में पुलिस ने 32 नामजद और 60 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही करीब 9 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker