वायरल

पतंग उत्सव में तोते की दिल तोड़ने वाली तस्वीर हुई वायरल, इंटरनेट पर मच गई हलचल

भारत में  इस सप्ताह की शुरुआत मकर संक्रांति का पर्व हर्ष और उल्लास के साथ मना कर की गई।

भारत में  इस सप्ताह की शुरुआत मकर संक्रांति का पर्व हर्ष और उल्लास के साथ मना कर की गई। यह त्यौहार  देश की संस्कृति में बहुत प्रासंगिकता रखता है और कई राज्यों में मनाया जाता है। त्योहार को सभी जगह अलाव जलाकर, मिठाइयां बनाकर और पतंग उड़ाकर मनाया गया  लेकिन इस त्योहार दौरान मनाए गए पतंग उत्सव से जुडी एक तोते की ऐसी फोटो सामने आई जिसने सोशल मीडिया पर हलचल मचा दी।  इस पतंग उत्सव का एक दुखद पहलू है चाइनीज डोर का इस्तेमाल, जो इंसानों के अलावा जानवरों और पक्षियों के लिए भी जानलेवा साबित होती है। यह कई निर्दोष पक्षियों के लिए किस तरह खतरनाक है इसका उदाहरण एक ट्विटर यूजर ने एक तोते की फोटो को शेयर करके बताया है।

हाल ही में एक ट्विटर यूजर @biditabag ने पतंग की डोर से मारे गए तोते की तस्वीर पोस्ट की जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। फोटो में एक तोता पतंग के मांझे से लटका हुआ है। ट्विटर यूजर ने फोटो के साथ कैप्शन में लिखा , “हमारा सिर शर्म से झुक गया हैं। इस दुखद व दिल तोड़ने वाली फोटो को भाविक ठाकर ने” काईपो चे? “शीर्षक से साझा किया है। इन खूबसूरत जीवों की दुर्दशा को दिखाने के लिए धन्यवाद। पतंग उत्सव के दौरान चाइनीज मांझे के इस्तेमाल से दुर्भाग्यवश सैकड़ों पक्षी जान गंवा देते हैं इसलिए इस खतरनाक मांजे का उपयोग बंद करें। “

तस्वीर को काइपो चे (या काई पो चे) शीर्षक के साथ साझा किया गया था, जो एक गुजराती शब्द है और आमतौर पर पतंग उड़ाते समय इस्तेमाल किया जाता है। यह जीत शॉट के लिए एक प्रतीकात्मक शब्द है, जिसका अर्थ है कि किसी ने विरोधियों की पतंग को काट दिया है। पोस्ट में, ट्विटर उपयोगकर्ता ने लोगों से आग्रह किया कि वे पतंग उड़ाने के लिए चीनी मांजा या धागे का इस्तेमाल करना बंद कर दें क्योंकि वे जानवरों और पक्षियों के लिए खतरनाक हैं।

बता दें कि पतंग उत्सव के दौरान बाजार में चाइना की बनी पतंगें और मांझे की खूब बिक्री होती है। लेकिन दिखने में आकर्षक और मजबूत मांझा जानलेवा साबित हो रहा है। दरअसल अपनी पतंग कटने से बचाने के लिए लोग चाइना की डोर का प्रयोग करते हैं, लेकिन चाइना की यह डोर सिर्फ आकाश में उड़ते पंछियों को ही घायल नहीं करती, बल्कि जरा सा टकराव होने पर नाजुक हाथों को भी घायल कर देती है। पि‍छले कुछ सालों में चाइना की डोर में उलझकर कई जानें जा चुकी है। इससे बचने के लिए बेहद सतर्क और जागरूक रहने की जरूरत है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker