भारत

स्टूडेंट के साथ टीचर मनाती थी रंगरलियां, पति बना अड़चन तो रास्ते से हटाया

यहां पर एक महिला ने अपने ही स्टूडेंट् के साथ चल रहे अवैध संबंध के चलते अपने पति को मौत के घाट उतार दिया। महिला ने  स्टूडेंट के साथ मिलकर पति की हत्या करवाई। मामला हरियाणा के पानीपत का है।

हरियाणाः यहां पर एक महिला ने अपने ही स्टूडेंट् के साथ चल रहे अवैध संबंध के चलते अपने पति को मौत के घाट उतार दिया। महिला ने  स्टूडेंट के साथ मिलकर पति की हत्या करवाई। मामला हरियाणा के पानीपत का है। यहां पर 30 साल की महिला को उसके 19 साल के छात्र के साथ गिरफ्तार किया गया है। अवैध संबंध के चक्कर में महिला ने पति को मार डाला।

पुलिस के मुताबिक समालखा गांव में दलबीर सिंह नामक युवक खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में काम करता था। करीब 4 वर्ष पूर्व उसका विवाह रोहतक निवासी अमिता के संग हुआ था। अब उनकी एक बेटी भी है। अमिता ने पोस्ट ग्रेजुएशन किया था। वो पढ़ने में काफी तेज थी। लिहाजा पिछले कुछ माह से वह उसके पड़ोस में रहने वाले एक ITI के छात्र अमित को ट्यूशन पढ़ा रही थी।

वक्त बीतते बीतते ना जाने कब अमिता और उसके छात्र अमित के बीच अवैध संबंध हो गए। कुछ दिन बाद यह बात दलबीर के परिजनों को पता चल गई। दलबीर और अमिता के बीच इस बात को लेकर काफी विवाद हुआ। दलबीर ने वहां से कमरा बदल दिया और दूसरी जगह शिफ्ट हो गया, इस बात से अमिता गुस्से से भर गई। उसने दलबीर को रास्ते हटाने की योजना बना डाली।

हत्या के तीन दिन बाद पुलिस ने दलबीर का शव उसके कमरे से बरामद किया, जबकि उसकी आरोपी पत्नी अमिता वहां से फरार हो गई। पुलिस के मुताबिक अमिता और उसका प्रेमी भागकर जयपुर पहुंचे और वहां से अजमेर, छत्तीसगढ़ और पंजाब जाकर के होटल में रहे।  पुलिस को छानबीन से पता चला कि दलबीर के एटीएम से रुपये भी निकाले जा रहे थे।

इसके बाद दोनों हरियाणा के रोहतक जा पहुंचे और वहां सेक्टर-4 में एक कमरा किराए पर लेकर रहने लगे। मंगलवार को उनकी ख़बर क्राइम टीम को मिली। इसके बाद पुलिस ने दबिश देकर दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े जाने पर दोनों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया। इस संबंध में मोहनगढ़, जींद निवासी ईश्वर सिंह ने थाना समालखा में केस दर्ज कराया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker