बॉलीवुड

Shocking: जिंदगी की आखिरी सांसे कादर खान ने कोमा में गुजारीं, और फिर…

जाने-माने अभिनेता एवं लेखक कादर खान का 31 दिसंबर को निधन हो गया। 81 वर्षीय खान लंबे समय से बीमार चल रहे थे।

मुंबई: जाने-माने अभिनेता एवं लेखक कादर खान का 31 दिसंबर को निधन हो गया। 81 वर्षीय खान लंबे समय से बीमार चल रहे थे। कादर खान कनाडा के एक अस्पताल में भर्ती थे। उनके बेटे ने बताया कि अभिनेता का अंतिम संस्कार भी वहीं किया जाएगा। कादर खान के बेटे सरफराज ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘मेरे पिता हमें छोड़कर चले गए। लंबी बीमारी के बाद 31 दिसंबर शाम छह बजे कनाडाई समय उनका निधन हो गया।

बताते चलें कि वह दोपहर को कोमा में चले गए थे। वह पिछले 16-17 हफ्तों से अस्पताल में भर्ती थे।’ उन्होंने कहा, ‘उनका अंतिम संस्कार कनाडा में ही किया जाएगा। हमारा सारा परिवार यहीं है और हम यहीं रहते हैं, इसलिए हम ऐसा कर रहे हैं।’ सरफराज ने कहा, ‘हम दुआओं और प्रार्थना के लिए सभी का शुव्रिया अदा करते हैं।’ अभिनेता के निधन से एक दिन पहले भी उनके निधन की खबर आई थी, लेकिन उनके बेटे ने उन खबरों को खारिज किया था।

खान को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी और डॉक्टर उन्हें नियमित वेंटीलेटर तथा बीपीएपी वेंटीलेटर पर रखे हुए थे। सुपर न्यूक्लियर पाल्सी बीमारी के कारण उन्हें चलने में भी दिक्कत आ रही थी और याददाश्त भी कमजोर हो गई थी। काबुल में जन्मे कादर खान ने 1973 में राजेश खन्ना के साथ फिल्म ‘दाग’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। उसके बाद वह 300 से अधिक फिल्मों में नजर आए।

अभिनेता बनने से पहले उन्होंने रणधीर कपूर, जया बच्चन की फिल्म ‘जवानी दीवानी’ के लिए संवाद लिखे थे। उन्होंने 250 से अधिक फिल्मों के लिए संवाद लिखे। पटकथा लेखक के तौर उन्होंने मनमोहन देसाई और प्रकाश मेहरा के साथ कई फिल्मों में सहयोग दिया। अमिताभ बच्चन, अनुपम खेर, मनोज बाजपेयी और अजरुन कपूर ने अभिनेता के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

बिग बी ने ट्विटर पर लिखा, ‘कादर खान का निधन हो गया। दुखद खबर। मेरी प्रार्थनाएं और संवेदनाएं। बेहतरीन मंच कलाकार, सबसे करुणामय और फिल्मों के सबसे प्रतिभाशाली।’ उन्होंने लिखा, ‘मेरी अधिकतर सफल फिल्मों के प्रख्यात लेखक। बेहतरीन साथी और एक गणितज्ञ।’ बच्चन और खान ने ‘दो और दो पांच’, ‘मुकद्दर का सिकन्दर’, ‘मिस्टर नटवरलाल’, ‘सुहाग’, ‘कुली’ और ‘शहंशाह’ जैसी फिल्मों में एक-साथ काम किया।

अभिनेता मनोज बाजपेयी ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी है। वाजपेयी ने लिखा, ‘ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दें कादर खान साहब।’ केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी उन्हें याद करते हुए दर्शकों को हंसने के कुछ सर्वश्रेष्ठ पल देने का श्रेय दिया। कई दिग्गज अभिनेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker