भोपाल

मध्यप्रदेश में तख्ता पलट, 15 साल बाद शिवराज ने छोड़ी सीएम की कुर्सी

 मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के सामने आए नतीजों ने भारतीय जनता पार्टी की सत्ता से दूरी बना दी है।

भोपालः मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के सामने आए नतीजों ने भारतीय जनता पार्टी की सत्ता से दूरी बना दी है। अब तो मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस्तीफा दे दिया। 15 साल सत्ता में रहने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया रहै। शिवराज सिंह ने कहा कि मैं संख्याबल के आगे सिर झुकाता हूं। अब हम सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहां राज्यपाल  आनंदीबेन पटेल को अपना त्यागपत्र सौंप दिया। शिवराज चौहान लगभग सवा ग्यारह बजे राजभवन पहुंचे और अपना त्यागपत्र सौंप दिया। त्यागपत्र सौंपने के बाद राजभवन के बाहर श्री चौहान ने पत्रकारों से कहा कि अब वे मुक्त हो गए हैं। चुनाव में जनता ने भाजपा को कांग्रेस की तुलना में ज्यादा वोट दिए, लेकिन संख्या बल के आगे वे नतमस्तक हैं और अपना त्यागपत्र सौंप दिया है।

आपको बता दें कि कांग्रेस बहुमत के करीब है, भाजपा को इस चुनाव में 55 से ज्यादा सीटों का नुकसान हुआ है। राज्य सरकार के 13 मंत्री भी चुनाव हार गए हैं।  राज्य के विधानसभा चुनाव के नतीजे बुधवार की अलसुबह (लगभग चार बजे) आए। विधानसभा के नतीजों में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है, मगर कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। कांग्रेस को 230 में से 114 सीटों पर जीत मिली है। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों के कई बड़े नामों को हार का सामना करना पड़ा है।

 शिवराज के 13 मंत्री भी हारे चुनाव 

भाजपा के उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतरे शिवराज सरकार के 13 मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा है। हारने वाले मंत्रियों मे अंतर सिंह आर्य (सोंवा), ओम प्रकाश (डिंडौरी),  ललिता यादव (छतरपुर), दीपक जोशी (हटपिपलिया), जयभान सिंह पावैया (ग्वालियर), नारायण सिंह कुशवाहा (ग्वालियर, दक्षिण), रुस्तम सिंह (मुरैना), उमा शंकर गुप्ता भोपाल (भोपाल दक्षिण पश्चिम), अर्चना चिटनिस (बुरहानपुर), शरद जैन (जबलपुर), जयंत मलैया ( दमोह), बालष्ण पाटीदार ( खरगोन),  लाल सिंह आर्य ( भिंड) शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker