खंडवा

अवैध रेत भंडारण को लेकर एसडीएम को आया गुस्सा, ठेकेदार को कॉलर से पकड़ा

जिले के जिमखाना मैदान के पास अवैध रेत भंडारण को लेकर कई बार जिला प्रशासन को शिकायत की गई।

खंडवा: जिले के जिमखाना मैदान के पास अवैध रेत भंडारण को लेकर कई बार जिला प्रशासन को शिकायत की गई। लेकिन इसकी तरफ कोई ध्यान न दिया गया। लेकिन जब कार्यवाही हुई तो एसडीएम संजयू पांडे को अचानक ग़ुस्सा आ गया और उन्होंने ठेकेदार की कॉलर पकड़ ली।

दरअसल जिला कलेक्टर के निर्देश पर जिला प्रशासन ,खनिज विभाग के साथ ही नगर निगम की टीम अवैध रूप से स्टोर की गई रेत को जब्त करने सूरजकुंड पहुंचे थे। प्रशासन जब अवैध रेत को जब्त करने की कार्यवाही कर रहा था। तभी रेत ठेकेदार खनिज विभाग की महिला अधिकारी रश्मि पांडे से बात करने उनकी गाड़ी के पास पहुंच गए। महिला अधिकारी अपनी जीप में बैठी थी इतने में पीछे से एसडीएम पांडे आ गए और एक ठेकेदार की कॉलर पकड़ कर उसे धमकाने लगे। जिस ठेकेदार की एसडीएम ने कॉलर पकड़ी उसका कहना हैं की एसडीएम उन्हें जबरन धमका कर कार्यवाही की बात कर रहे हैं। जबकि हम खनिज अधिकारी से शांतिपूर्वक अपनी बात कह रहे थे।

वहीं रेत भंडारण करने वाले कारोबारियों की माने तो वे खनिज विभाग से रेत भण्डारण की परमिशन के लिए पहले ही आवेदन कर कर चुके हैं। लेकिन खनिज विभाग उन्हें नगर निगम भेज देता है और नगर निगम उन्हें वापस खनिज विभाग। ऐसे में उनके पास कोई जगह नहीं बचती इसलिए वे इस जगह रेत को स्टोर कर अपना  कारोबार करते हैं। रेत कारोबारीयों ने इस कार्यवाही को गलत बताते हुए कहा की उनके पास जो रेत हैं उसकी रॉयल्टी वह पहले ही दे चुके हैं।

इधर जब मीडिया ने एसडीएम संजयू पांडे से कॉलर पकड़ने वाले मामले में बात करनी चाही तो वे बात करने से ही मना कर गए। लेकिन महिला खनिज अधिकारी ने इस बात को स्वीकारा कि रेत कारोबारी पहले तो कार्यवाही का विरोध कर रहे थे लेकिन बाद में वह समान्य तौर पर बात कर रहे थे। भंडारण के आवेदन की बात को भी खनिज अधिकारी ने नकारते हुए कहा की उनसे पहले किसी अधिकारी को कभी आवेदन किया हो तो पता नहीं लेकिन यहां रोड़ होने से भंडारण की अनुमति नहीं दी जा सकती।

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker