उत्तरप्रदेश

कश्मीर के बाद उत्तरप्रदेश में भी पत्थरबाजी, पुलिसकर्मियों को बनाया निशाना

प्रधाननमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम से वापस जा रहे पुलिसकर्मियों पर पथराव किया गया।

लखनऊः प्रधाननमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम से वापस जा रहे पुलिसकर्मियों पर पथराव किया गया। यह पथराव इतना जोरदार था कि इस में एक पुलिसकर्मी की भी मौत हो गई। वहीं इस सारे घटनाक्रम का आरोप निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं पर लगाया जा रहा है। बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में पीएम मोदी एक रैली को संबोधित करने के लिए आए थे, लेकिन  वापस जाते समय मोदी के काफिले के साथ पुलिसकर्मियों की गाड़ी पर कुछ लोगों ने पथराव करना शुरु कर दिया।

आपको बता दें कि कश्मीर में पत्थरबाजों ने सुरक्षाबलों का जीना हराम कर रखा है। वहां पर तो ाए दिन पत्थरबाजी होती है, लेकिन उत्तर प्रदेश में यह पत्थरबाजी का अपना पहला मामला है। वहां पर भी पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया जाता है और यहां भी इस घटना में पुलिसकर्मियों को ही आड़े हाथों लिया गया।

बताया जा रहा है कि निषाद समाज के लोग आरक्षण की मांग को लेकर आज जनपद में कई जगहों पर धरना प्रदर्शन कर रहे थे। वहीं पुलिस प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए इनके कुछ नेताओं को पहले से ही गिरफ्तार कर ली थी। करीमुद्दीनपुर थाने की पुलिस प्रदर्शनकारियों को समझाने गई थी लेकिन यह लोग समझने के बजाय पुलिसकर्मियों पर ईंट पत्थरों से हमला कर दिया जिसकी जद में आकर तीन चार पुलिसकर्मी घायल हो गए।

सीएम योगी ने किया मुआवजे का ऐलान

इस घटना में मारे गए सुरेश वत्स की पत्नी के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने 40 लाख के मुआवजे का ऐलान किया है। वहीं पत्नी को असाधारण पेंशन और माता-पिता को सरकार 10 लाख रुपये देगी। सीएम योगी ने परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी का भी ऐलान किया है। इसके अलावा सीएम योगी ने डीएम और एसएसपी को असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने और तुरंत गिरफ्तारी का निर्देश दिया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker