भारत

वृंदावन में पीएम मोदी, गरीब बच्चों को परोसी 300 करोड़वीं थाली

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उत्तर प्रदेश के वृंदावन में अक्षयपात्र फाउंडेशन कार्यक्रम के तहत वंचित वर्ग के बच्चों को 3 सौ करोड़वीं थाली परोसी।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उत्तर प्रदेश के वृंदावन में अक्षयपात्र फाउंडेशन कार्यक्रम के तहत वंचित वर्ग के बच्चों को 3 सौ करोड़वीं थाली परोसी। यह कार्यक्रम देश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब परिवारों के बच्चों को मध्याह्न भोजन (मिड-डे-मील) योजना के तहत फाउंडेशन की ओर से चलाये जाने वाले कार्यक्रम का हिस्सा है। वृंदावन में चक्रोदस मंदिर में आज पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ मौजूद हैं। यहा आज एक खास कार्यक्रम है। ये कार्यक्रम खास कर बच्चों के लिए है। बता दें कि ये कार्यक्रम अक्षयपात्र फाऊंडेशन ने आयोजित किया है। इस कार्यक्रम में 10 हजार से भी ज्यादा बच्चेे मौजूद है।

पीएम मोदी ने आज बच्चों को 300 करोड़वीं थाली परोसी। पीएम मोदी ने कहा कि अक्षयपात्र फाऊंडेशन की तरफ से 10 जिलों में बच्चों तक खाना पहुंचाया जाएगा।  वृंदावन में चक्रोदस मंदिर में पीएम मोदी ने भगवत गीता का श्लोक दौहराते हुए कहा कि जो दान बिना किसी भेदभाव से किसी जरुरतमंद को दिया जाता है वो ही सातविक दान माना जाता है। साथ हा कहा कि आज मुझे बच्चों को खाना परोसने का मौका मिलेगा। मुझे इस बात की खुशी है कि आपने अटल जी के समय में पहली थाली परेसी थी। आज मुझे 300 करोड़वी थाली परोसने का मौका मिला है। अक्षयपात्र फाऊंडेशन को लाखों लोगों को खाने खिलाने पर गांधी प्रीज अवार्ड मिला है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज थोड़ी देर बाद मुझे कुछ बच्चों को अपने हाथ से खाना परोसने का अवसर मिलने वाला है। जितनी थालियां परोसी जाएंगी, उसमें से एक थाली 3 सौ करोड़वी है। पीएम ने कहा अब बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले, ये सुनिश्चित किया जा रहा है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारी सरकार द्वारा सुनिश्चित किया जा रहा है कि पोषकता के साथ, अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले। बच्चों के सुरक्षा कवच का एक और महत्वपूर्ण पहलू है स्वच्छता है। स्वच्छ भारत अभियान के माध्यम से इस खतरे को दूर करने का बीड़ा हमने उठाया।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker