वायरल

रिसर्च में खुलासा, पार्टनर के बजाय महिलाएं कुत्तों के साथ लेती है ज्यादा चैन की नींद

न्यूयार्क के शहर बफैलो के कैनिसिअस कॉलेज के रिसर्चर्स ने शोध में पाया है कि महिलाएं इंसानों से मुकाबले कुत्तों से साथ बेहतर नींद सोती हैं।

न्यूयार्क के शहर बफैलो के कैनिसिअस कॉलेज के रिसर्चर्स ने शोध में पाया है कि महिलाएं इंसानों से मुकाबले कुत्तों से साथ बेहतर नींद सोती हैं। क्रिस्टी एल हॉफमैन के नेतृत्व में हुए इस शोध के लिए अमेरिका में 962 महिलाओं पर शोध किया गया था। इस दौरान 55 प्रतिशत महिलाएं एक कुत्ते के साथ सोती हैं जबकि  31 प्रतिशत महिलाएं एक बिल्ली के साथ सोती है।

इस सर्वे के लिए महिलाओं को एक प्रश्न सूची भरनी थी जिसमें उन्हें अपने कुत्ते या बिल्ली के साथ नींद के तजुर्बे के बारे में लिखना था इसके अलावा वे अपने पार्टनर के साथ होते हुए कैसी नींद लेती हैं। इस शोध में मालूम हुआ बै कि महिलाएं बिल्लों और अपने पार्टनर के साथ सोते हुए काफी डिस्टर्ब होती हैं जबकि कुत्ते अच्छे स्लीपिंग पार्टनर होते हैं यानि वे डिस्टर्ब नहीं करते।

क्रिस्टी एल हॉफमैन ने हफपोस्ट को इसका कारण बताते हुए कहा कि कुत्ते पालने वालों को रूटीन कुत्ते न पालने वालों की तुलना में अधिक डिसीप्लिंड होता है। कुत्ते अपने मालिक के रूटीन को इंसानों या अन्य जानवरों का तुलना में जल्दी एडाप्ट कर लेते हैं। कुछ लोग इसलिए भी कुत्तों के साथ गहरी नींद में सो जाते हैं कि किसी भी आपात काल की स्थिति में उनका कुत्ता सतर्क रहेगा और उन्हें भी सतर्क कर देगा। एरिजोना में मेयो क्लिनिक ने पहले एक अध्ययन किया था, जिसमें पाया गया था कि कुत्तों के साथ सो वाले लोग आमतौर पर बेहतर नींद का अनुभव करते थे,तो इस विशेष अध्ययन के लिए, हॉफमैन और उनकी टीम विशेष रूप से महिलाओं के बारे में जानना चाहती थीं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker