क्रिकेट

धोनी के चयन और जडेजा की फिटनेट पर मुख्य चयनकर्ता का बड़ा बयान, काटी रवि शास्त्री की बात

मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने स्पष्ट किया कि उनकी समिति ने टेस्ट श्रृंखला के लिये रविंद्र जडेजा का चयन उनकी फिटनेस रिपोर्ट के आधार पर किया था

मेलबर्न: मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने स्पष्ट किया कि उनकी समिति ने टेस्ट श्रृंखला के लिये रविंद्र जडेजा का चयन उनकी फिटनेस रिपोर्ट के आधार पर किया था जिसमें उन्हें पूरी तरह से फिट घोषित किया गया था। जडेजा के कंधे में जकड़न थी जिससे वह पर्थ में दूसरे टेस्ट में नहीं खेल सके थे और कोच रवि शास्त्री ने पत्रकारों से कहा कि यह खिलाड़ी भारत से ही इस चोट के साथ आया था। बाक्सिंग डे टेस्ट में सौराष्ट्र के इस आलराउंडर को शामिल किया गया है। प्रसाद ने कहा, ‘‘किसी भी चयन बैठक की पूर्व संध्या पर चयन समिति को सभी खिलाड़ियों की फिटनेस रिपोर्ट दी जाती है। उस रिपोर्ट में जडेजा पूरी तरह फिट था। इसलिये हमने उसे चुना था।

जब हमने उसे चुना था तो उसके बाद वह रणजी ट्राफी में भी खेला, जिसमें उसने 60 ओवर गेंदबाजी की थी। इसलिये आस्ट्रेलिया के लिये चयन के समय उसके अनफिट होने का सवाल ही नहीं उठता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब भी कोई स्वास्थ्य संबंधित मुद्दा उठता है तो हमारा एक समूह है जो इन सब चीजों को देखता है। फिजियो द्वारा हर चीज देखी जाती है और बयान में भी इसे स्पष्ट रूप से दिया गया है।’’ प्रसाद ने यह भी कहा कि महेंद्र सिंह धोनी का न्यूजीलैंड दौरे के लिये टी20 टीम में वापसी करना तय ही था, क्योंकि उन्हें सिर्फ वेस्टइंडीज और आस्ट्रेलिया के खिलाफ छह ट्वेंटी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिये आराम दिया गया है।

प्रसाद ने कहा, ‘‘महेंद्र सिंह धोनी के संबंध में, जब उसे आराम दिया था तो हमने कहा था कि उसे इन छह मैचों के लिये आराम दिया जायेगा ताकि हम दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत को ज्यादा मौका दे सकें। यही अहम कारण था। अब वे कुछ मैच खेल चुके हैं तो हमने सोचा कि हमें महेंद्र सिंह धोनी को फिर से टीम में वापस लाना चाहिए।’’ उन्होंने ऋषभ पंत को आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे टीम से बाहर रखने के फैसले के बारे में कहा कि ऐसा उन्हें आगे की बड़ी चुनौतियों के लिये तरोताजा रखने के लिये किया गया है।

उन्होंने आश्वस्त किया कि यह युवा विकेटकीपर अब भी 2019 विश्व कप की दौड़ में शामिल है। मुख्य चयनकर्ता ने सूचित किया कि अब से सिर्फ 20 खिलाड़ी ही विश्व कप तक कोर टीम के रूप में खेलेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘जैसा कि वादा किया गया था, हमने कहा था कि हम विश्व कप के करीब बढ़ रहे हैं और हमारे पास केवल 13 वनडे ही बचे हैं। यह अब कोर टीम की तरह ही है। हमने 20 खिलाड़ियों को चुना है और केवल ये 20 सदस्य ही अब से खेलेंगे।’’

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker